दरकते पहाड़ (कहानी)

दो-तीन दिन से लगातार बारिश हो रही थी। बरसात के मौसम में बारिश होना आम बात है। परन्तु इस बारिश में भयावहता का आभास हो रहा था। प्रिया ने ऐसी बारिश पहले कभी नहीं देखी थी। वह…

गिलहरी और जामुन

गाँव के किनारे जङ्गल  में एक विशाल जामुन का वृक्ष था । लंगूर व बन्दर बडे चाव से उसके फल खाते , कभी उसकी टहनी तोडते , खूब उछल-कूद मचाते रहते थे, रात्रि में हिरनों की टोली…

Open chat
Whatsapp Me